Uttarakhand

यमकेश्वर ब्लॉक के हेंवल घाटी में संचालित कैंपों में पसरा सन्नाटा, पुलिस- प्रशासन की ओर से पर्यटकों की आवाजाही बंद

ऋषिकेश। यमकेश्वर ब्लॉक के हेंवल घाटी क्षेत्र में संचालित कैंपों में सन्नाटा पसर गया है। लगातार बारिश की चेतावनी से आपदा सुरक्षा के दृष्टिगत पौड़ी पुलिस- प्रशासन की ओर से इन क्षेत्र में संचालित कैंप और रिजॉर्ट में पर्यटकों की आवाजाही और बुकिंग बंद कर दी है। हेंवल घाटी क्षेत्र में पिछले दिनों हुई तेज मूसलाधार बारिश ने भयंकर तबाही मचाई। 13 अगस्त को जोगियाना गांव के समीप भूस्खलन होने से मोहन चट्टी के पास सड़क के नीचे संचालित नाइट पैराडाइज कैंप जमींदोज हो गया। कैंप के अंदर रह रहे हरियाणा के पांच पर्यटकों की मलबे में दबने से मौत हो गई।

17 अगस्त शाम बैरागढ़ क्षेत्र में हुई बारिश से बैरागढ़ गांव में कई ग्रामीणों के आवासीय भवन क्षतिग्रस्त और मलबे में दब गए। पर्यटकों की सुरक्षा दृष्टिगत थाना लक्ष्मणझूला पुलिस ने 16 अगस्त को हेंवल घाटी क्षेत्र बैरागढ़, मोहनचट्टी, जोगियाना, बैरागढ़, गरुड़चट्टी, बिजनी, नैल, रत्तापानी, घट्टूगाड़ आदि क्षेत्रों में संचालित कैंपों में पर्यटकों की आवाजाही और बुकिंग रद्द करने के आदेश जारी कर दिए हैं। पर्यटकों की बुकिंग बंद होने से कैंपों में सन्नाटा पसर गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk