Uttarakhand

तेलंगाना में बनेगी भाजपा सरकार- टी राजा

हैदराबाद के गौशामहल से विधायक हैं राजा

30 नवम्बर को होगा मतदान, त्रिकोणीय संघर्ष होने के आसार

विचार एक नई सोच के संपादक राकेश बिजलवाण ने हैदराबाद में लिया इंटरव्यू

राकेश बिजलवाण
संपादक

देहरादून। टी राजा सिंह हैदराबाद के गौशामहल विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक हैं। टी. राजा सिंह अपनी साफगोई के लिए मशहूर हैं। पहले वह तेलगूू देशम पार्टी के सदस्य थे और अब भाजपा में शामिल हो गये हैं। वह गोरक्षा के मुद्दे पर मुखर रहते हैं। उनका कहना है कि भारत में गोमाता की रक्षा करना हर हिन्दू का धर्म है। विधानसभा चुनाव की कवरेज के लिए गये विचार एक नई सोच के संपादक राकेश बिजलवाण ने हाल में उनसे हैदराबाद में मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने टी राजा सिंह से विभिन्न मुद्दों पर बात की।

टी. राजा सिंह का कहना है कि इस बार तेलंगाना में भाजपा की सरकार बन सकती है। उनके अनुसार केंद्र में मोदी सरकार की नीतियों का यहां व्यापक प्रभाव पड़ा है। उनके अनुसार केंद्र सरकार से किसानों को मिल रही किसान सम्मान निधि के अलावा गरीबों को मुफ्त राशन के साथ अन्य योजनाओं का भी लाभ मिल सकता है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मौजूद के. चंद्रशेखर राव की सरकार को लेकर जनता में खासा आक्रोश है। जनता इस सरकार से निजात चाहती है।

गौरतलब है कि तेलंगाना में 119 विधानसभा सीटें हैं। यहां 30 नवम्बर को चुनाव होना है। अब तक दो बार यहां भारत राष्ट्र समिति यानी टीआरएस की सरकार रही है। इस बार एंटी इनकम्बेक्सी फेक्टर के चलते तेलंगाना में भाजपा को उम्मीद है कि उसे सत्ता मिल सकती है या उसकी सीटों में इजाफा हो सकता है। टी राजा सिंह दावा करते हैं कि इस बार के चुनाव में भाजपा किंगमेकर की भूमिका में होगी।

टी राजा सिंह का कहना है कि भाजपा ने आक्रामक तेवर अपना कर त्रिकोणीय संघर्ष के आसार पैदा कर दिये हैं। भाजपा ने अपने तीन सांसदों को भी विधानसभा चुनाव मैदान में उतारा है। इनमें बंडी संजय को करीमनगर सीट से, धर्मपुरी अरविंद को कोलुतरा से और बापू राव को निजामाबाद की बोथ सीट से उतारा गया है। कई अन्य सीटों पर भी भाजपा उम्मीदवार काफी मजबूत हैं। हुजूराबाद में इटाला राजेंद्र काफी मजबूत स्थिति में हैं। इटाला राजेंद्र गजवेल में सीएम के. चंद्रशेखर राव के लिए बड़ी चुनौती बने हुए हैं। कामारेड्डी में भी भाजपा उम्मीदवार के. वेंकट रमन्ना रेड्डी राव और कांग्रेस चीफ रेवंत रेड्डी को कड़ी चुनौती दे रहे हैं।

एक अन्य सवाल के जवाब में टी. राजा ने कहा कि भाजपा तेलंगाना में बेहद सावधानी से कदम रख रही है। पिछली असेंबली में एक सीट लाने के बाद लोकसभा चुनाव में चार सीटें लेकर पार्टी में आत्मविश्वास आया है। 2020 के ग्रेटर हैदराबाद म्युनिपल कॉरपोरेशन में भाजपा को 48 सीटों पर जीत मिली है। इस बार भाजपा हैदराबाद में अपने दम पर सरकार बना सकती है। उन्होंने कहा राज्य में भाजपा की सरकार बनते ही उत्तराखंड की भाजपा सरकार से पर्यटन के साथ ही अन्य कई मसलों पर बातचीत करने के साथ ही करार किये जायेंगे।

राजनीतिक जानकार बताते हैं कि पिछले कुछ साल में बीजेपी का वोट शेयर यहां बढ़ा है। पीएम मोदी भी यहां चुनाव प्रचार कर रहे हैं। इसके अलावा हिंदू वोट फैक्टर भी है। इन सबसे बीजेपी शहरी इलाकों में कम से कम 15-20 विधानसभा सीटों पर कांग्रेस और बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा सकती है। बोथ, मुधोले, कोरुतला, निर्मल, निज़ामाबाद (शहरी), परकल, हनमकोंडा, महेश्वरम, राजेंद्रनगर, अंबरपेट, उप्पल, मेडचल, मल्काजगिरी, सेरिलिंगमपल्ली, महबूबनगर, नारायणपेट विधानसभा सीटों पर भी भाजपा की स्थिति मजबूत मानी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk