Sports

वेस्टइंडीज ने लगातार दूसरे टी20 मुकाबले में भारतीय टीम को हराकर सीरीज में 2-0 से बनाई बढ़त

नई दिल्ली।  वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टी20 में भारतीय टीम को रोमांचक मुकाबले में दो विकेट से हार का सामना करना पड़ा है। इस हार के साथ ही टीम इंडिया पांच मैच की सीरीज में 0-2 से पीछे हो गई है। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए सात विकेट खोकर 152 रन बनाए थे। इसके जवाब में वेस्टइंडीज ने आठ विकेट खोकर 18.5 ओवर में 155 रन बना लिए और मैच अपने नाम किया। भारत के लिए सबसे ज्यादा 51 रन तिलक वर्मा ने बनाए। हार्दिक ने तीन और चहल ने दो विकेट लिए। वेस्टइंडीज के लिए निकोलस पूरन ने 67 रन की मैच जिताऊ पारी खेली। अकील हुसैन, रोमारियो शेफर्ड और अल्जारी जोशेफ ने दो-दो विकेट लिए। सीरीज के शुरुआती दो मैच हारने के साथ ही भारतीय टीम के लिए हर मैच करो या मरो का हो गया है। सीरीज जीतने के लिए भारत को बाकी तीनों मैच अपने नाम करने होंगे। वहीं, वेस्टइंडीज अब एक और मैच जीतते ही सीरीज अपने नाम कर लेगा।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम ने बेहद धीमी शुरुआत की। पहले ओवर में सिर्फ एक रन बना। दूसरे ओवर में किशन ने एक छक्का लगाया, लेकिन दो ओर के बाद भारत का स्कोर नौ रन था। तीसरे ओवर में गिल ने एक छक्का लगाया और अगली गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में अल्जारी जोशेफ का शिकार बने। गिल का खराब फॉर्म जारी रहा और वह सात रन ही बना सके। अगले ही ओवर में काइल मेयर्स ने सटीक थ्रो मारकर सूर्यकुमार यादव को रन आउट कर दिया। सूर्यकुमार ने सिर्फ एक रन बनाया।  18 रन पर दो विकेट गिरने के बाद टीम इंडिया बैकफुट पर आ गई। ऐसे में भारत के लिए अपना दूसरा टी20 मैच खेल रहे तिलक वर्मा ने ईशान किशन के साथ मिलकर पारी को संभाला। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 42 रन जोड़े। इसके बाद किशन भी 23 गेंद में 27 रन बनाकर आउट हो गए। रोमारियो शेफर्ड ने उन्हें क्लीन बोल्ड किया। संजू सैमसन भी सात रन बनाकर बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में आउट हुए। अकील हुसैन की गेंद पर पूरन ने उन्हें स्टंप आउट किया।

भारत ने 76 रन पर चार विकेट गंवा दिए थे। तिलक ने कप्तान हार्दिक के साथ मिलकर भारतीय टीम को 100 रन के पार पहुंचाया। इस दौरान उन्होंने अपने टी20 करियर का पहला अर्धशतक भी पूरा किया। 20 साल के तिलक रोहित शर्मा के बाद भारत के लिए टी20 में अर्धशतक लगाने वाले दूसरे युवा खिलाड़ी बने। उन्होंने पांचवें विकेट के लिए हार्दिक के साथ 38 रन जोड़े। तिलक 41 गेंद में पर पांच चौके और एक छक्के की मदद से 51 रन बनाकर आउट हुए। अकील हुसैन की गेंद पर छक्का लगाने के प्रयास में उन्होंने अपना विकेट गंवाया।

153 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज की टीम ने बेहद खराब शुरुआत की। पारी की पहली ही गेंद पर ब्रेंडन किंग आउट हो गए। हार्दिक ने उन्हें खाता भी नहीं खोलने दिया और सूर्यकुमार के हाथों कैच कराया। पहले ही ओवर की चौथी गेंद पर जॉनसन चार्ल्स भी हार्दिक का शिकार बने। तिलक वर्मा ने दो रन के निजी स्कोर पर उनका कैच पकड़ा। दो रन के स्कोर पर दो विकेट गंवाने के बाद वेस्टइंडीज की टीम संघर्ष कर रही थी। इसके बाद चौथे नंबर पर आए पूरन ने आक्रामक बल्लेबाजी कर पलटवार शुरू किया। उन्होंने मेयर्स के साथ मिलकर हार्दिक के दूसरे ओवर में 17 रन बटोरे। हालांकि, मेयर्स की पारी ज्यादा लंबी नहीं चली और वह सात गेंद में 15 रन बनाकर आउट हुए। अर्शदीप ने उन्हें विकेटों के सामने फंसाया।

32 रन पर तीन विकेट गंवाकर वेस्टइंडीज की टीम संघर्ष कर रही थी। ऐसे में पूरन ने लगातार बड़े शॉट खेलकर भारतीय गेंदबाजों पर दबाव बनाया। उन्होंने पावरप्ले के आखिरी ओवर में रवि बिश्नोई की जमकर धुनाई की और 18 रन बटोरे। पावरप्ले के बाद वेस्टइंडीज का स्कोर 61/3 था। निकोलस पूरन ने कप्तान रोवमन पॉवेल के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 57 रन जोड़े। इस दौरान उन्होंने 29 गेंद में अपना अर्धशतक भी पूरा किया। पॉवेल 19 गेंद में 21 रन बनाकर हार्दिक का तीसरा शिकार बने।

वेस्टइंडीज की पारी का 16वां ओवर करने आए चहल ने मैच पलट दिया। उनके ओवर में पहले रोमारियो शेफर्ड रन आउट हुए। इसके बाद जेसन होल्डर को चहल ने ईशान के हाथों स्टंप आउट कराया और आखिरी गेंद पर शिमरन हेटमायर को भी विकेटों के सामने फंसाया। अब वेस्टइंडीज के आठ विकेट गिर चुके थे। क्रीज पर दो पुछल्ले बल्लेबाज थे और जीत के लिए 24 गेंद में 23 रन की जरूरत थी। हालांकि, अकील हुसैन और अल्जारी जोशेफ ने नौवें विकेट के लिए 17 गेंद में 26 रन की नाबाद साझेदारी कर अपनी टीम को सात गेंद रहते जीत दिला दी। इस जीत के साथ ही वेस्टइंडीज की टीम पांच मैच की सीरीज में 2-0 से आगे हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk