National

जम्मू-कश्मीर के पुंछ में भारतीय सेना के ट्रक में आतंकियों ने ग्रेनेड से किया हमला, 5 जवान शहीद

पुंछ। जम्मू-कश्मीर के पुंछ में भारतीय सेना के ट्रक में आतंकियों द्वारा ग्रेनेड से हमला करने से 5 जवानों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में आतंकवादियों द्वारा ग्रेनेड के संभावित उपयोग के कारण सेना के ट्रक में आग लग गई थी। बता दें कि इस पूरी घटना की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद के हिट स्क्वाड पीपुल्स एंटी फासिस्ट फ्रंट (PAFF) ने ली है।

हमले के बाद पुंछ में भींबर गली में सेना द्वारा तैनाती और भी कड़ी कर दी गई है, जिसकी कुछ तस्वीरें जारी की गई हैं। आतंकी संगठन पीपुल्स एंटी फासिस्ट फ्रंट PAFF के प्रवक्ता तनवीर अहमद राथर ने इंटरनेट मीडिया पर एक बयान जारी कर हमले की जिम्मेदारी ली और कश्मीर में जी-20 बैठक को भी निशाना बनाने की धमकी दी है।

PAFF उन आतंकी संगठनों में एक है जो पिछले कुछ वर्षों में जम्मू कश्मीर में सक्रिय हुए हैं। PAFF को जैश-ए-मोहम्मद और अल-बदर का हिट स्क्वाड माना जाता है। इसमें हरकत और तहरीक-उल-मुजाहिदीन के अलावा हिजबुल के कुछ आतंकी भी शामिल बताए जाते हैं। पुंछ में आतंकी हमला ऐसे समय में हुआ है, जब सभी सुरक्षा एजेंसियां अगले माह कश्मीर में प्रस्तावित जी-20 बैठक को शांत, सुरक्षित एवं विश्वासपूर्ण माहौल में कराने की तैयारियों में जुटी हुई हैं। हमले की जिम्मेदारी लेने वाले आतंकी संगठन पीपुल्स एंटी फासिस्ट फ्रंट (पीएएफएफ) के नेटवर्क को तबाह करने की एजेंसियों ने तैयारी कर ली है।

पीएएफएफ को द रजिस्टेंस फ्रंट जिसे टीआरएफ कहते हैं। टीआरएफ की तर्ज पर ही पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आइएसआइ ने पाकिस्तान में बैठे आतंकी संगठनों के सरगनाओं के साथ मिलकर खड़ा किया है, लेकिन यह संगठन टीआरएफ से ज्यादा खतरनाक है। टीआरएफ के आतंकी जहां टारगेट किलिंग को अंजाम देने में या फिर ग्रेनेड हमलों तक खुद को सीमित रखते हैं, वहीं पीएएपएफ के आतंकी आम नागरिकों को निशाना बनाने से लेकर सुरक्षाबलों पर घात लगाकर हमला करने से भी पीछे नहीं हटते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk