Uttarakhand

कांगड़ा घाट, हरिद्वार में डूबते हुए कांवड़िये के प्राणों का रक्षक बना SDRF जवान

हरिद्वार। कांगड़ा घाट में नहाते समय 03 कांवड़िये नदी के तेज जलधारा में बहने लगे, जिनमे से एक कांवड़िया ठीक से तैरना न जानने के कारण नदी में डूबने लगा। कांवडियों की चीखपुकार सुनकर घाट पर तैनात SDRF जवान आशिक अली ने बिना देरी किये नदी में छलांग लगा दी।

SDRF जवान आशिक अली ने लगभग 150 मीटर तक उनके पीछे तैरते हुए डूबते हुए कांवड़िये को पकड़ लिया व सकुशल बाहर निकाला।

रेस्क्यू में थोड़ी सी देरी भी कांवड़िये के जीवन पर बहुत भारी पड़ सकती थी परन्तु आशिक अली द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए अथक परिश्रम से उक्त कांवड़िये के जीवन को सुरक्षित किया गया, जिसका कांवडियों द्वारा अत्यधिक आभार प्रकट किया गया।

कांवड़िये का विवरण:– हरि गुप्ता पुत्र जतिन गुप्ता निवासी जम्मू कश्मीर।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk