Uttarakhand

सिलक्यारा सुरंग से निकली उम्मीदों की किरण, 39 मीटर तक पहुंचाया गया पाइप

कोई अड़चन नहीं आयी तो गुरुवार की सुबह तक 41मजदूर लेंगे खुली हवा में सांस

सिलक्यारा रेस्क्यू ऑपरेशन अपडेट

सिलक्यारा, उत्तरकाशी। दीवाली की सुबह से सुरंग में फंसे मजदूरों तक पहुँचने में अब 30-35 मीटर की दूरी रह गयी है। रात को चली आगर मशीन ने ड्रिल कर 18 मीटर पाइप सुरंग में डाल दिये है। अब कुल 39 मीटर तक पाइप पहुंच गए हैं। मजदूर लगभग 70 मीटर की दूरी पर फंसे हुए हैं। एनएचएआईडीसीएल के एमडी महमूद अहमदने बताया कि देर रात तक तीन पाइप और इन्सर्ट किये गए हैं। देर रात तक और भी पाइप सुरंग में डाले जाएंगे।

उम्मीद जताई जा रही है कि अगर ड्रिलिंग में किसी प्रकार की अड़चन नहीं आये तो गुरुवार की सुबह तक फंसे मजदूर खुली हवा में सांस लेंगे। सुरंग में यह उम्मीद की किरण को लेकर वरिष्ठ अधिकारियों ने मीडिया को विशेष जानकारी दी।
अधिकारियों ने बताया कि बड़कोट इलाके से भी रेस्क्यू टनल के 7 मीटर से अधिक खुदाई कर दी गयी है।

उन्होंने बताया कि सुरंग में फंसे मजदूरों से ऑडियो संपर्क भी स्थापित कर दिया गया। उन्हें आवश्यक कपड़े,दवा व बना खाना लगातार भेजा जारहा है। इसके अलावा मजदूरों के मानसिक मनोबल को बढ़ाये जाने के लिए एक्सपर्ट की सहायता भी ले रहे हैं। यही नहीं, पूरे प्रदेश में फंसे मजदूरों की सुरक्षा व जिंदगी के लिए दुआ और प्रार्थना के लिए हजारों हाथ भी उठे हुए हैं।मजदूर लगभग 70 मीटर की दूरी पर फंसे हुए हैं।

प्रेस वार्ता में उत्तराखंड सरकार के विशेष कार्याधिकारी भास्कर खुल्बे, सचिव नीरज खैरवाल,जिलाधिकारी अभिषेक रूहेला,महानिदेशक सूचना बंशीधर तिवारी, एनएचएआईडीसीएल के एमडी महमूद अहमद, कमांडेंट एसडीआरएफ मणिकांत मिश्रा पुलिस अधीक्षक अर्पण यदुवंशी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk