Uttarakhand

ऋषिकेश में खुलेआम दादागिरी दिखा हवाई फायरिंग करने वाले पुलिस की गिरफ्त में

देखें वीडियो, थूकने के विवाद में हुआ झगड़ा, हवाई फायरिंग व हॉकी लहराने से बाजार में मची दहशत

जानलेवा हमला कर फरार हुए 4 अभियुक्तों को दून पुलिस ने 12 घंटे के अन्दर किया गिरफ्तार

एक देसी पिस्टल कारतूस, 2 हॉकी स्टिक व कार बरामद

ऋषिकेश। ऋषिकेश में खुलेआम दादागिरी दिखा हवाई फायरिंग करने वाले दबंगों को पुलिस ने 12 घन्टे के अंदर गिरफ्तार कर लिया। दबंगों को ऋषिकेश-श्रीनगर मार्ग पर पकड़ा गया। गिरफ्तार 4 अभियुक्तों के पास से एक देसी पिस्टल कारतूस, 2 हॉकी स्टिक व कार भी बरामद की गई। वॉयरल वीडियो में साफ दिख रहा है कि शुक्रवार की रात दबंगों ने भरे बाजार में हाकी से भी पिटाई की। और हवाई फायर कर दहशत फैलाई। दबंग खुलेआम गाली देते हुए कार में बैठकर निकल गए।

ऐसे हुई वारदात

मिली जानकारी के मुताबिक शनिवार की रात को कोतवाली ऋषिकेश में वादी दीपक जायसवाल पुत्र विजय जायसवाल निवासी चंद्रेश्वर नगर गली नंबर 18, वार्ड नंबर 2, ऋषिकेश के द्वारा एक लिखित तहरीर दी गई वह रात्रि में मण्डी से सब्जी खरीदकर अपने घर की ओर जा रहे थे।

इसी बीच, चन्द्रभागा पुल के पास एक कार की पिछली सीट पर बैठे एक व्यक्ति द्वारा शीशा खोलकर बाहर की ओर बिना देखे ही थूक दिया जो उनके ऊपर गिरा। इस पर व्यक्ति को टोकने पर उसके द्वारा वादी के साथ गाली-गलौच की गई तथा गाडी मे बैठे अन्य लोगों द्वारा हॉकी, लोहे की रॉड तथा बन्दूक से उसके ऊपर हमला कर दिया । और जान से मारने की नीयत से उसके ऊपर पिस्टल से फायर करते हुए मौके से भाग गए।

वादी द्वारा दी गयी लिखित तहरीर के आधार पर तत्काल कार्रवाई करते हुए कोतवाली ऋषिकेश में मुकदमा अपराध संख्या 535/23 धारा 307 504 आईपीसी अभियोग पंजीकृत किया गया। घटना की गंभीरता के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश को तत्काल घटना के अनावरण तथा अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु कडे निर्देश दिये गये। जिस पर तत्काल ऋषिकेश क्षेत्र अंतर्गत शहर में आने जाने वाले मार्गों पर गाड़ी के नंबर को फ्लैश करते हुए चेकिंग अभियान चलाया गया ।

घटना में सफेद रंग की वाक्सवैगन पोलो कार रजिस्ट्रेशन नंबर AS 01DB 1317 का उपयोग किया गया था। कार के श्रीनगर गढवाल मार्ग की ओर जाने की जानकारी मिली। जिस पर तत्काल एक टीम को श्रीनगर गढ़वाल मार्ग पर रवाना करते हुए उक्त वाहन सवार चारों व्यक्तियों समरजीत तेवतिया, हिमांशु, दिलीप भुरान व रियांश ढाका को तीन धारा टिहरी गढ़वाल के पास से गिरफ्तार किया गया।

झगडे में प्रयोग की गई 2 हॉकी स्टिक, 1 स्टम्प भी बरामद किया गया। अभियुक्त समरजीत ने फायरिंग की थी। घटना में फायरिंग करने के बाद पिस्टल और कारतूस को चंद्रभागा पुल से 200 मीटर आगे एक कूड़ेदान के पास फेंक दिया था।अभियुक्त की निशानदेही पर देसी पिस्टल व 3 जिंदा कारतूस को चन्द्रभागा पुल के पास से बरामद किया गया। अभियुक्त समरजीत के विरुद्ध आर्म्स एक्ट के अंतर्गत अलग से अभियोग पंजीकृत किया गया है।

नाम पता अभियुक्तगण:

1- समरजीत तेवतिया पुत्र सुबोध कुमार तेवतिया निवासी शिवाजीनगर पिलखुवा ढोलना, थाना पिलखुवा, जिला हापुड़, उत्तर प्रदेश, उम्र 21 वर्ष
2- हिमांशु पुत्र सतीश निवासी ग्राम तुमडैल गिरधरपुर, थाना हापुड़, उत्तर प्रदेश, उम्र 24 वर्ष
3- दिलीप भुरान पुत्र कालूराम भूरान निवासी ग्राम मुंडावर थाना नारायणपुर जिला अलवर,राजस्थान उम्र 23 वर्ष
4- रियांश ढाका पुत्र भानु प्रताप ढाका निवासी कांता कथूरिया कॉलोनी थाना जय नारायण व्यास कॉलोनी जिला बीकानेर, राजस्थान उम्र 23 वर्ष

बरामदगी विवरण:-

1- 01 देशी पिस्टल मय 03 जिंदा कारतूस
2- 02 हॉकी स्टिक
3- 01 विकेट
4- वाक्सवैगन पोलो कार रजिस्ट्रेशन नंबर AS 01 DB 1317

पूछताछ विवरण:-

पूछताछ करने पर अभियुक्तो के द्वारा बताया गया कि हम सभी गढ़वाल विश्वविद्यालय श्रीनगर में पढ़ते हैं आज हम सभी अपने घर से श्रीनगर कॉलेज जा रहे थे तो ऋषिकेश में कार से बाहर थूकने को लेकर हमारा वहां के कुछ लोगों से झगड़ा हो गया तथा झगड़े के दौरान मारपीट भी हो गई थी तथा वहां काफी लोग एकत्र होने लगे थे समरजीत के पास एक देशी पिस्टल था जिससे समरजीत ने वहां पर फायर कर दिया था तथा उसके बाद हम लोग अपनी इस कार से वहा से भाग निकले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk