Uttarakhand

आज से गौला के सभी 11 गेटों में होगा खनन

हल्द्वानी। गौला खनन को लेकर डंपर मालिकों की ज्यादातर मांगों पर कार्रवाई होने के बाद अब गौला के सभी 11 गेटों से खनन होने का रास्ता साफ हो गया है। हालांकि अभी 8 गेटों में खनन शुरू हो पाया है। उधर, गौला गेट में पंजीकृत और आरटीओ कार्यालय में सरेंडर 5 हजार से ज्यादा वाहनों को रिलीज करवाना अब भी निगम के लिए चुनौती बना हुआ है।

हल्दूचौड़ व देवरामपुर गेट को छोड़ सभी 8 गेटों से 1428 वाहनों से खनन हुआ। 8 गेटों के अलावा दो बुग्गी खनन गेट राजपुरा व इंदिरानगर से भी बुग्गियों के माध्यम से खनन हुआ है। गौला गेटों में खनन के लिए रजिस्टर 7500 वाहनों में से अभी भी करीब 5 हजार से ज्यादा डंपर आरटीओ कार्यालय में सरेंडर हैं। इन डंपरों को रिलीज करा कर इनको गौला में खनन के लिए पहुंचाना वन निगम के लिए अब भी चुनौती बना हुआ है। हालांकि डंपर मालिकों के आंदोलन समाप्त करने के बाद वन निगम अधिकारियों ने राहत की सांस ली है। वन विकास निगम के डीएलएम आनंद कुमार ने बताया कि रविवार को 8 गेटों से डंपर व 2 बुग्गी गेटों से खनन हुआ है। उन्होंने बताया कि सोमवार को गौला के दोनों बुग्गी गेटों के साथ-साथ, सभी 11 वाहन गेटों से खनन शुरू हो जाएगा। उन्होंने बताया कि डंपर मालिक आरटीओ कार्यालय से वाहनों को रिलीज करा कर खनन के निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त करने के पूरे प्रयास किए जा रहे हैं।

स्टोन क्रशर व स्टॉक के लिए भाड़ा 33 रुपए 50 पैसे हुआ तय। गौरतलब है कि खनन कारोबारियों और स्टोन क्रशर संचालकों के बीच रेट को लेकर शनिवार को समझौता हो चुका है। इससे लंबे समय से चला आ रहा गतिरोध समाप्त हो गया। आंदोलन के संयोजक रमेश जोशी ने बताया कि इसमें खनन गेटों के नजदीक स्टोन क्रशर व स्टॉक के लिए भाड़ा 33 रुपए 50 पैसे तय हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk