National

एक हजार रुपये पाने के लिए विवाहिता बनी विधवा, पढ़े पूरा मामला

कानपुर। शादीशुदा होने के बाद भी महिलाओं के विधवा पेंशन उठाने का मामला सामने आया है। वित्तीय वर्ष 2023 के सत्यापन में ऐसी 24 महिलाएं सामने आई हैं, जिनके माथे पर तो पति के नाम का सिंदूर लगा है लेकिन हर माह एक हजार रुपये पाने के लिए विधवा का चोला ओढ़ने से गुरेज नहीं किया। ये वो महिलाएं हैं, जिन्होंने पहली पति की मौत के बाद दूसरी शादी कर ली है। अब सत्यापन में पोल खुलने के बाद इनकी पेंशन बंद कर वसूली की तैयारी है।

दअरसल, पति की मृत्यु के बाद सरकार की तरफ से निराश्रित महिला योजना के तहत विधवा को एक हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाती है। वर्तमान में जिले में 58 हजार महिलाएं इस योजना का लाभ ले रहीं हैं। प्रोबेशन विभाग की टीम ने जब सत्यापन शुरू किया तो पता चला कि अलग-अलग ब्लॉक की 24 महिलाएं दिए पते पर नहीं रहतीं। पूछताछ में पता चला कि दूसरी शादी करने के बाद पति के घर में रहती हैं। टीम नए पते पर पहुंची तो मामला सामने आया। महिलाओं ने बताया कि उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं थी कि पेंशन बंद कराने के लिए आवेदन करना पड़ता है।

पांच हजार अन्य विधवाओं का नहीं मिला पता
सत्यापन में पांच हजार अन्य विधवाओं का भी पता नहीं मिला है। इन महिलाओं ने अपना आधार भी लिंक नहीं कराया है। विभाग ने आशंका जताई है कि हो सकता है, इनमें भी कई ऐसी महिलाएं हों जो फर्जी तरीके से योजना का लाभ ले रही हों।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk