Uttarakhand

राजधानी की प्रमुख दवा कंपनी विंडलास बायोटेक लिमिटेड से 2.14 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी, दो के खिलाफ मुकदमा दर्ज

देहरादून। राजधानी की प्रमुख दवा कंपनी विंडलास बायोटेक लिमिटेड से एक कंपनी ने 2.14 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी कर ली। दिल्ली की इस कंपनी ने विंडलास से दवाएं मंगाई थीं। इसके बाद विंडलास को भुगतान नहीं किया गया। मामले में विंडलास के अधिशासी निदेशक की शिकायत पर दिल्ली की कंपनी के दो अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। विंडलास बायोटेक लिमिटेड के अधिशासी निदेशक पवन कुमार ने पुलिस को बताया कि दवाओं की सप्लाई के लिए उनसे दिल्ली की डेलियस फार्मास्यूटिकल नाम की कंपनी के अधिकारियों ने बात की थी। यह कंपनी मनीष मेट्रो प्लाजा, सेक्टर 12, द्वारका नई दिल्ली में स्थित है।

इसके डायरेक्टरों दिग्विजय श्रीवास्तव और सपना श्रीवास्तव से व्यापार को लेकर बात हुई थी। दोनों ने कहा था कि मेडिकल सेक्टर में उनकी कंपनी अग्रणी है। सप्लाई के लिए 3.16 करोड़ रुपये की दवाएं विंडलास से ली गईं। इसमें से दिल्ली की इस कंपनी ने विंडलास को 1.04 करोड़ रुपये का भुगतान तो कर दिया लेकिन 2.14 करोड़ रुपये नहीं दिए। आरोप है कि जब रुपये मांगे तो आरोपियों ने गाली गलौज शुरू कर दी। इंस्पेक्टर ने बताया कि इस कंपनी के खिलाफ हरिद्वार के सिडकुल क्षेत्र की एक कंपनी ने भी शिकायत की थी। इस कंपनी से भी करोड़ों रुपये का माल लेकर पैसा नहीं दिया गया था। मामले में दिग्विजय श्रीवास्तव और सपना श्रीवास्तव के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk