Health

बेर खाने से स्वास्थ्य को मिलते हैं ये 5 प्रमुख लाभ, जरूर करें सेवन

बेर एक छोटे आकार का फल है, जिसकी खेती मुख्य रूप से दक्षिण एशिया में की जाती है। यह स्वाद में खट्टे-मीठे होते हैं और कई विटामिन्स, खनिज और अन्य गुणकारी पोषक तत्वों से समृद्ध होते हैं। इसका सेवन करने से शरीर को कई तरह की बीमारियों से बचाव करने में मदद मिल सकती है। आइए आज हम आपको बेर के सेवन से होने वाले पांच जबरदस्त फायदे बताते हैं।

अच्छी नींद दिलाने में हैं सहायक
अनिद्रा जैसी नींद की समस्याओं के इलाज के लिए चीनी दवाओं में अक्सर बेर का उपयोग किया जाता है। बेर के बीज और फल दोनों में पॉलीसेकेराइड और सैपोनिन की मात्रा अधिक होती हैं। इन यौगिकों में सिडेटिव और हिप्नोटिक गुण होते हैं, जो नर्वस सिस्टम पर अच्छा प्रभाव डालते हैं। इनकी मदद से तनाव कम होता है और अच्छी नींद आती है। रात के समय सोने से पहले बेर की एक कप गरम चाय जरूर पीएं।

पाचन स्वास्थ्य के लिए है लाभदायक
शरीर की अधिकतर समस्याएं पाचन तंत्र से जुड़ी होती हैं। अगर खाने का पाचन ठीक से नहीं होता है तो पेट दर्द, कब्ज, अल्सर और अन्य गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल परेशानियां होने लगती हैं। बेर फाइबर और कार्ब्स का एक अच्छा स्रोत है, जो पाचन संबंधित समस्याओं को दूर करने में मदद करते हैं। इसके अलावा इसके सेवन से मेटाबॉलिज्म बढ़ता है और शरीर को पूरे दिन ऊर्जावान रखने में मदद मिलती है।

त्वचा को चमकदार बनाने में है मददगार
बेर में विटामिन सी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो मुक्त कणों से लडऩे में मदद करते है और त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाने में मदद करते हैं। इसमें मौजूद पोषक तत्व चेहरे के मुंहासों और दाग-धब्बों को खत्म करके त्वचा को चिकनी और चमकदार त्वचा बनाने में कारगर हैं। यह झुर्रियों, महीन रेखाओं और पिगमेंटेशन के अलावा सोरायसिस, एक्जिमा और मेलेनोमा जैसी त्वचा की कई समस्याओं को कम करने में भी मदद करता है।

हड्डियों को बनाते हैं मजबूत
रिपोर्ट के मुताबिक, हड्डियों को स्वस्थ और मजबूत रखने के लिए कैल्शियम और फास्फोरस जैसे खनिज महत्वपूर्ण होते हैं। बेर में भी कैल्शियम, फास्फोरस और मैग्नीशियम जैसे हड्डियों को मजबूत करने वाले कई खनिज मौजूद होते हैं। इसी कारण बेर का सेवन हड्डियों के कार्य और लचीलेपन को प्रभावित करने वाले ऑस्टियोपोरोसिस जैसे विकारों को रोकता है और हड्डियों का मजबूत बनाता है।

ब्लड सर्कुलेशन में करता है सुधार
शरीर में आयरन की कम मात्रा होने की वजह से एनीमिया हो सकता है, जो कमजोरी, चक्कर और थकान का कारण बन सकता है। फास्फोरस, पोटैशियम, मैंगनीज, जिंक और आयरन से भरपूर बेर शरीर में ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करने और हृदय रोगों के जोखिम को रोकने में मदद करता है। यह शरीर में हीमोग्लोबिन की संख्या में भी सुधार करता है, जिससे हृदय भी स्वस्थ रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk