Health

ठंड का मौसम आते ही बढ़ जाता है सर्दी जुकाम का खतरा, जानें किस तरह घर पर रहकर करें बचाव

अक्टूबर के महीने में गर्म सर्द का मौसम शुरू हो जाता है, दिन में जहां गर्मी पड़ती है तो रात को ठंड का एहसास होना शुरू हो गया है। ऐसे में गर्म सर्द के इस मौसम में सर्दी जुकाम का खतरा सबसे ज्यादा होता है और संक्रमण का भी खतरा बढ़ जाता है। अक्सर लोगों का सवाल रहता है कि सर्दी जुकाम से बचने के लिए घरेलू उपाय क्या होते हैं? तो चलिए आज हम आपको बताते हैं ऐसे पांच घरेलू उपाय जिनका उपयोग करके आप सर्दी के मौसम में मौसमी बीमारियों से बच सकते हैं।

शहद और नींबू की चाय
एक कप गर्म पानी में एक बड़ा चम्मच शहद और आधे नींबू का रस मिलाएं, गले की खराश से राहत पाने और खांसी से राहत पाने के लिए इस चाय की चुस्की लें।

अदरक की चाय
अदरक की चाय बनाने के लिए ताजे अदरक के एक छोटे टुकड़े को कद्दूकस करके पानी में उबाल लें। अदरक में नेचुरल एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो कंजेशन को कम करने और गले की खराश को शांत करने में मदद कर सकते हैं।

भाप लेना
एक बड़े बर्तन में पानी उबालें, जब यह भाप बन जाए तो इसे आंच से उतार लें और इसमें यूकेलिप्टस तेल की कुछ बूंदें मिलाएं। बर्तन के ऊपर झुकें और भाप लेने के लिए अपने सिर को तौलिये से ढक लें, इससे नाक में जमा कफ को साफ करने में मदद मिल सकती है।

हल्दी दूध
एक कप दूध गर्म करें और उसमें एक चम्मच हल्दी मिलाएं। इस मिश्रण को अच्छे से मिलाएं और सोने से पहले पी लें। हल्दी में नेचुरल एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो सर्दी के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं।

खारे पानी के गरारे
एक गिलास गर्म पानी में आधा चम्मच नमक मिलाएं और इससे गरारे करें। यह गले की खराश को शांत करने और जलन को कम करने में मदद कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk