Business

एचडीएफसी के बाद अब इन दो बड़े बैंकों का होगा विलय, शेयरों में आएगी भारी उछाल

नई दिल्ली। एचडीएफसी बैंक के बाद अब आईडीएफसी फर्स्ट बैंक और आईडीएफसी लिमिटेड भी विलय करने जा रहा है। इसके लिए फर्स्ट बैंक के निदेशक मंडल ने मंजूरी दे दी। साथ ही शेयर एक्सचेंज रेश्यो को भी फिक्स कर दिया है। इसके तहत आईडीएफसी लिमिटेड के शेयरधारकों को हर 100 शेयर पर बैंक में 155 शेयर अलॉट किए जाएंगे। विलय की मंजूरी के बाद आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के शेयरों की वैल्यू में 4.9 प्रतिशत तक की उछाल भी दर्ज की जाएगी।

हालांकि इस विलय को आईडीएफसी, भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग सेबी व शेयर बाजारों समेत अन्य सभी नियामकीय संस्थानों से मंजूरी मिलना बाकी है। इसके अलावा कंपनियों के शेयरहोल्डर्स से मंजूरी मिलना भी बाकी है। मंजूरी मिलने के बाद एचडीएफसी बैंक और एचडीएफसी के विलय के बाद भारत में वित्तीय क्षेत्र का यह दूसरा सबसे बड़ा विलय होगा।

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक ने बताया कि आईडीएफसी एफएचसीएल, आईडीएफसी लिमिटेड और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के कॉरपोरेट ढांचे के सरलीकरण के मकसद से ऐसा किया जा रहा है। इससे रेग्लुलेशंस के अनुपालन में भी आसानी होगी। आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2022-23 के अंत तकफर्स्ट बैंक के पास 2.4 लाख करोड़ रुपये के एसेट थे। इसका टर्नओवर 27,194 करोड़ रुपये था। वित्त वर्ष 23 में बैंक को 2437 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fapjunk