Saturday, February 4, 2023
Home Uttarakhand CM धामी ने दिए भु-धंसाव से प्रभावित संकटग्रस्त परिवारों के पुनर्वास की...

CM धामी ने दिए भु-धंसाव से प्रभावित संकटग्रस्त परिवारों के पुनर्वास की वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश

मुख्यमंत्री ने जोशीमठ में हो रहे भू-धंसाव की उच्चाधिकारियों के साथ की समीक्षा

सचिव आपदा प्रबंधन, आयुक्त गढ़वाल मण्डल और जिलाधिकारी से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सीएम ने ली विस्तृत जानकारी।

सभी संबंधित विभागों को दिये टीम भावना के साथ कार्य करने के निर्देश।

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने शुक्रवार को सचिवालय में जोशीमठ शहर के भू धसाव से प्रभावित संकटग्रस्त परिवारों के पुनर्वास की वैकल्पिक व्यवस्था एवं भूधंसाव के कारणों आदि के संबंध में उच्चाधिकारियों के साथ समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जोशीमठ की अध्यतन स्थित की सचिव आपदा प्रबंधन, आयुक्त गढ़वाल मण्डल और जिलाधिकारी चमोली से विस्तृत जानकारी प्राप्त की। उन्होंने भुधंसाव से प्रभावित संकटग्रस्त परिवारों के पुनर्वास की वैकल्पिक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये हैं।

उन्होंने कहा कि संकट की इस स्थिति में जानमाल की सुरक्षा एवं बचाव पर ध्यान देने की जरूरत है। ऐसे समय में लोगों की मदद करना हम सबका दायित्व एवं जिम्मेदारी है। मुख्यमंत्री ने इस स्थिति में लोगों में भरोसा बनाये रखने की भी बात कही। उन्होंने प्रभावित क्षेत्रों में रह रहे लोगों के पुनर्वास तथा उन्हें अन्यत्र शिफ्ट करने में भी तेजी लाये जाने को कहा। मुख्यमंत्री ने कहा कि हम प्रभावितों को बेहतर से बेहतर क्या मदद कर सकते हैं इस पर ध्यान दिया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे समय में सबसे महत्वपूर्ण होता है लोगों में सरकार और प्रशासन का भरोसा बनाये रखना। इसमें धरातल पर काम करने वाले प्रशासनिक मशीनरी को संवेदनशीलता से काम करना होगा तथा स्थिति पर निगरानी बनाए रखनी होगी। इसके लिये हमें तात्कालिक तथा दीर्घकालीक कार्य योजना पर गंभीरता से कार्य करना होगा। तात्कालिक एक्शन प्लान के साथ ही दीर्घकालीन कार्यों में भी लंबी प्रक्रिया को समाप्त करते हुए डेंजर जोन के ट्रीटमेंट, सीवर तथा ड्रेनेज जैसे कार्य को जल्द से जल्द पूरा किया जाए, इसमें सरलीकरण तथा त्वरित कार्यवाही ही हमारा सबसे बड़ा मूलमंत्र होना चाहिए। जोशीमठ मामले पर जल्द से जल्द हमारी कार्ययोजना बिल्कुल तय होनी चाहिए। हमारे लिये नागरिकों का जीवन सबसे अमूल्य है।

मुख्यमंत्री ने सचिव आपदा प्रबंधन, आयुक्त गढ़वाल मण्डल और जिलाधिकारी से विस्तृत रिपोर्ट प्राप्त करते हुए निर्देश दिये कि चिकित्सा उपचार की सभी सुविधाओं की उपलब्धता रहे। जरूरी होने पर एयर लिफ्ट की सुविधा रहे, इसकी भी तैयारी हो।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि तत्काल सुरक्षित स्थान पर अस्थायी पुनर्वास केंद्र बनाया जाए। जोशीमठ में सेक्टर और जोनल वार योजना बनाई जाए। तत्काल डेंजर जोन को खाली करवाया जाए और जोशीमठ में अविलंब आपदा कंट्रोल रूम स्थापित किया जाए। स्थाई पुनर्वास के लिए पीपलकोटी और गौचर सहित अन्य स्थानों पर सुरक्षित जगह तलाशी जाए। कम प्रभावित क्षेत्रों में भी तत्काल ड्रेनेज प्लान तैयार कर काम शुरू हो। सहायता शिविरों में सभी जरूरी सुविधाएं हों। जिलाधिकारी और प्रशासन स्थानीय लोगों से निरंतर सम्पर्क में रहें। सम्भावित डेंजर जोन भी चिन्हित कर लिये जाएं। समय पर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुचाना जरूरी है। इस संबंध में सैटेलाइट इमेज भी उपयोगी हो सकती हैं। सभी विभाग टीम भावना से काम करे तभी हम लोगों की बेहतर ढंग से मदद करने में सफल होंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जोशीमठ का धार्मिक एवं सांस्कृतिक महत्व है। यहां पर किये जाने वाले तात्कालिक महत्व के कार्यों को आपदा प्रबंधन नियमों के तहत सम्पादित करने की व्यवस्था बनायी जाय। ऐसे समय में लोगों की आजीविका भी प्रभावित न हो इसका भी ध्यान रखा जाय। लोगों की आपदा मद से जो भी मदद हो सकती है वह की जाय। उन्होंने प्रभावितों की मदद के लिये एसडीआरएफ तथा एनडीआरएफ की पर्याप्त व्यवस्था करने तथा आवश्यकता पड़ने पर हेली सेवा की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि मानसून से पहले जोशीमठ में सीवरेज ड्रेनेज आदि के कार्य पूर्ण कर लिये जाय।

सचिवालय में आयोजित बैठक में अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार, सचिव शैलेश बगौली, सचिव कुर्वे, दिलीप जावलकर, पुलिस महानिरीक्षक एसडीआरएफ सु रिद्विम अग्रवाल आदि के साथ ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से आयुक्त गढ़वाल मण्डल सुशील कुमार,सचिव आपदा प्रबंधन डॉ रंजीत सिन्हा जिलाधिकारी चमोली हिमांशु खुराना सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

RELATED ARTICLES

जेई-एई परीक्षा धांधली मामले में एसटीएफ ने कई लोगों के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा, रुड़की तहसील के बीजेपी नेता का नाम भी आया सामने

रुड़की। एसटीएफ ने जेई-एई की परीक्षा में धांधली में कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इसमें रुड़की तहसील के मोहम्मदपुर जट निवासी एक...

गंदगी फैलाने और पॉलीथिन के उपयोग पर 98 लोगों का चालान

हरिद्वार। नगर निगम की टीम ने हरकी पैड़ी, रोड़ीबेलवाला,कनखल भूपतवाला, ज्वालापुर, जगजीतपुर और मायापुर क्षेत्र में गंदगी करने वाले और पॉलीथिन का प्रयोग करने वालों...

महाराज ने जनपद को दी 25 करोड़ से अधिक की सौगात

महाराज ने जनपद को दी 14 करोड़ की सौगात 12.46 करोड़ की धनराशि ग्राम पंचायतों के खाते में की ट्रांसफर टिहरी। पुनर्वास हेतु सरकार द्वारा निर्गत...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest Post

अमित शाह के खिलाफ टिप्पणी मामले में राहुल गांधी को बड़ी राहत, हाईकोर्ट ने दिया ये निर्देश

रांची।  झारखंड हाईकोर्ट ने कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा भाजपा के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ की गई एक टिप्पणी से...

उत्तर कोरिया ने देश की संवेदनशील जानकारियों की रक्षा के लिए बनाया कानून

सियोल। उत्तर कोरिया ने आंतरिक अनुशासन को कड़ा करने के प्रयासों के बीच देश की संवेदनशील जाननकारियों की रक्षा करने के उद्देश्य से एक नया...

जेई-एई परीक्षा धांधली मामले में एसटीएफ ने कई लोगों के खिलाफ दर्ज किया मुकदमा, रुड़की तहसील के बीजेपी नेता का नाम भी आया सामने

रुड़की। एसटीएफ ने जेई-एई की परीक्षा में धांधली में कई लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। इसमें रुड़की तहसील के मोहम्मदपुर जट निवासी एक...

फिल्म पठान का जलवा बरकरार, 8वें दिन भी रिकॉर्डतोड़ कमाई जारी

बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान की फिल्म पठान की बॉक्स ऑफिस पर कमाई लगातार जरी है। पठान की सफलता का परचम हर दिन लहरा...

प्रेमी की सगाई रुकवाने पहुंची प्रेमिका के साथ परिजनों ने की हैवानियत की सारी हदें पार

मेरठ। रोहटा थाना क्षेत्र से दरिंदगी का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां प्रेम में ठोकर खाई युवती प्रेमी की सगाई रुकवाने के लिए...

गंदगी फैलाने और पॉलीथिन के उपयोग पर 98 लोगों का चालान

हरिद्वार। नगर निगम की टीम ने हरकी पैड़ी, रोड़ीबेलवाला,कनखल भूपतवाला, ज्वालापुर, जगजीतपुर और मायापुर क्षेत्र में गंदगी करने वाले और पॉलीथिन का प्रयोग करने वालों...

आइडिया चाहिए, एकाउंटिंग नहीं

नई परिस्थितियों में भारतीय अर्थव्यवस्था को कैसी दिशा की जरूरत है, इस सवाल पर चर्चा की जरूरत महसूस की जा रही है। लेकिन इसमें...

महाराज ने जनपद को दी 25 करोड़ से अधिक की सौगात

महाराज ने जनपद को दी 14 करोड़ की सौगात 12.46 करोड़ की धनराशि ग्राम पंचायतों के खाते में की ट्रांसफर टिहरी। पुनर्वास हेतु सरकार द्वारा निर्गत...

कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने किया इंटिरियर डिजाइन के शो रूम का विधिवत उद्घाटन

"घर वहीं है जहां दिल है" इस प्रकार के अभिनव प्रयासों से युवाओ को मिलती है प्रेरणा-रेखा आर्या देहरादून। कैबिनेट मंत्री रेखा आर्या ने आज राजपुर...

मुख्यमंत्री ने किया गणतंत्र दिवस परेड में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले एनसीसी कैडेट्स व आरडीसी दल को सम्मानित

गणतंत्र दिवस के अवसर पर कर्तव्य पथ पर उत्तराखण्ड की झांकी मानसखण्ड को प्रथम स्थान मिलना प्रत्येक उत्तराखण्डवासी के लिये गर्व का विषय-सीएम युवा स्वयं...